Bitcoin Kya Hai – What is Bitcoin in Hindi Complete Info

Bitcoin Kya Hai:- आज के समय में सबसे ज्यादा जिस टॉपिक के बारे में बात होती है वह है Bitcoin जब भी Cryptocurrency जैसी डिजिटल करेंसी की बात होती है तो एक चीज हमेशा लोगों के जवान पर होता है वह है Bitcoin तो आपने कभी यह जानने की कोशिश नहीं की कि Bitcoin असल में है क्या या Bitcoin किस तरीके से काम करता है या फिर Bitcoin किस टेक्नोलॉजी पर चलता है?

अगर आपके दिमाग में Bitcoin संबंधित कुछ भी सवाल है जैसे कि Bitcoin क्या है (What is Bitcoin in Hindi) या Bitcoin किस तरीके से काम करता है या Bitcoin जैसी Cryptocurrency का इतिहास क्या है तो आज के Detailed Article में हम टॉपिक के बारे में विस्तार से जानेंगे तो चलिए सबसे पहले जानते हैं की Bitcoin क्या है।

Bitcoin क्या है?

Bitcoin एक Cryptocurrrency है, जोकि Blockchain Technology के ऊपर काम करती है। Bitcoin को किसी एक व्यक्ति, समूह या संस्था के द्वारा नियंत्रण नहीं किया जा सकता और यह Digital Currency पैसे और भुगतान के रूप में कार्य करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इस पर ये Digital Currency peer to peer Network पर काम करती है मतलब की इसके Financial Transaction me किसी भी third party का कोई Involvement नहीं होता है।

इस Digital Currency में जो भी Transaction होती है उनका Varification Miners के द्वारा किया जाता है। और इसमें Miners के पुरे Varification के बाद ही एक Transaction को पूरा किया जाता है।

वैसे तो बिटकॉइन को 2009 में एक गुमनाम Developer या Developers के समूह के द्वारा Satoshi Nakamoto नाम का उपयोग करके लोगो के लिए Loanch किया गया था।

लेकिन आज Bitcoin दुनिया की सबसे प्रसिद्ध Cryptocurrency बन गई है। Bitcoin की popularity अंदाजा हम इसी से लगा सकते हैं, एक बिटकॉइन ही है जिसने developers को और तरीके की Cryptocurrecy बनाने के लिए प्रेरित किया।

Also Read: Blockchain Kya Hai – What is Blockchain in Hindi? Detailed Info

Bitcoin के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बाते।

बिटकॉइन को 2009 में लॉन्च किया गया था जो की बाजार पूंजीकरण के इतिहास से दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टो-करेंसी है

Fiat Currency से एकदम अलग, Bitcoin एक ऐसी डिजिटल करेंसी है जिसे बनाया जा सकता है,  एक जगह से दूसरी जगह भेजा जा सकता है, ख़रीदा बेचा जा सकता है Decentralized ledger system जोकि Blockchain के नाम से जाना जाता है के द्वारा Store भी किया जा सकता है। 

बिटकॉइन एक ऐसी Popular Digital Currency है जिस Currency में अन्य डेवलपर को इसके जैसी दूसरी Cryptocurrency बनाने के लिए प्रेरित किया है

Bitcoin का Purpose क्या है?

Bitcoin को साधारण तोर पर लोगों के लिए इंटरनेट के जरिये से पैसे भेजने के लिए बनाया गया था। 

इस Digital Currency का उद्देश्य Decentralized Payment System बनाने का है, जिसमें किसी भी सेंट्रल या फिर किसी Financial Institutions जैसे कि बैंक का कोई Control नहीं हो सके और एक साधारण व्यक्ति ही इसका सारा Control अपने पास पा सके।  

Bitcoin में Blockchain Technology क्या है।

Bitcoin एक Cryptocurrency है और Cryptocurrency Blockchain का एक हिस्सा हैं , Blockchain और कुछ नहीं पर एक technology  है जोकि बिटकॉइन जैसी Cryptocurrencies  के ऊपर काम करती है। ब्लॉकचेन एक distributed ledger जोकि बहुत सारे blocks को एक चैन के जरीके बनता है, और ये सारे blocks आपस में मिलकर एक blockchain बनाते है।   

Blockchain के अंदर जो information Blocks के रूप स्टोर रहती है।  जब भी Blockchain में कोई ट्रांजैक्शन होती है तो वह information दूसरे Block से कॉपी करके एक नए Block में दर्ज हो जाती हैं और ट्रांजैक्शन miners के द्वारा Verify करने के बाद की transaction पूरी हो जाती है।  

और जैसे ही Minors के द्वारा यह transaction Verify हो जाती है वैसे ही नया Block खुल जाता है और Bitcoin उत्पन्न हो जाता है।  

FAQ on Bitcoin – Bitcoin पर लोगो करा पूछे गए सवाल। 

भारत में Bitcoin का क्या Future है?

जहाँ तक की भारत में बिटकॉइन का भविष्य की बात करे तो Bitcoin में बड़े बड़े निवेशकों की रुचि देखकर और निरंतर इस करेंसी को अपनाने पर यह देखा जा सकता है कि भारत में बिटकॉइन का भविष्य सुनहरा होगा।

Bitcoin को बनाने वाला  Satoshi Nakamoto नाम का एक Japanize व्यक्ति है। 

Bitcoin किस देश की करेंसी है?

Bitcoin आमतौर पर किसी देश की करेंसी नहीं है क्योंकि यह एक डिजिटल करेंसी है जिससे कि हर व्यक्ति ऑनलाइन इंटरनेट के द्वारा खरीद या बेच सकता है और इसका उपयोग भी ऑनलाइन कर सकता है।  

Cryptocurrency क्या है?

सरल भाषा में कहें तो Cryptocurrency एक ऐसी डिजिटल करेंसी है जो कि कंप्यूटर के algorithm द्वारा बनाई गई है और यह करंसी कुछ नंबर के द्वारा ऑनलाइन स्टोर रहती है और इस पर किसी भी देश, सरकार या फाइनैंशल इंस्टिट्यूशन का कोई कंट्रोल नहीं है। 

Bitcoin को कैसे बनाया जा सकता है?

Bitcoin की सबसे छोटी यूनिट का नाम संतोषी है जिसमें 1 Bitcoin = 10 करोड़ Satoshi होते हैं जैसे की 1 Indian Rupees = 100 Paise होते हैं वैसे ही 10 करोड़ Satoshi जोड़कर एक 1 Bitcoin बनता है

Bitcoin को किस प्रकार खरीद सकते है ?

यदि आप Bitcoin का Mine नहीं तो, इस केस में Cryptocurrency exchange के तौर पर Bitcoin को खरीद या बेंच  सकते है। 

हालांकि ज्यादातर लोग पूरे  Bitcoin को उसके उसके कीमत के बजह पूरा से खरीद नहीं पाते हैं लेकिन इसके लिए भी आप बिटकॉइन के एक portion को भी कर सकते हैं जोकि Fiat Currencies जैसे Dollar  या Indian  Rupees  के तौर पर आसानी से खरीद सकते हैं। 

उदहारण के तौर पर बिटकॉइन को Coinbase App के द्वारा आसानी से खरीद सकते हैं जिसके लिए आपको Coinbase App में अपना अकाउंट बनाना होगा और पैसों को अपने Bank Account, Debit Card या Credit Card के द्वारा उसमे  भी आसानी से Bitcoin को खरीद सकते है। ज्यादा जानकारी के लिए आप निचे दिए गए आर्टिकल को पड़ सकते है।

>> Bitcoin Investing 

अंतिम शब्द Bitcoin क्या है (Bitcoin Kya Hai) पर 

दोस्तों आज की Detailed Article में हमने आपको बताया कि Bitcoin क्या है (Bitcoin kya hai) और Bitcoin किस टेक्नोलॉजी पर काम करता है साथ ही इसके बारे में हमने कुछ महत्वपूर्ण बातें भी हमने इस आर्टिकल में आपको बताई। 

तो दोस्तों अगर आप Bitcoin में निवेश करना चाहते हैं या Bitcoin में निवेश करने की सोच रहे हैं तो हम आपको बताना चाहते हैं कि किसी भी फाइनैंशल मार्केट की तरह Bitcoin जैसी Crypto Market भी बहुत ही volatile Industry यानि की उतार-चढ़ाव से भरी हुई है, जहाँ पर आपको हाई उतार-चढ़ाव देखने को मिलने मिल सकते हैं इस हाई उतार-चढ़ाव का ही परिणाम यह आता है कि ज्यादा इन्वेस्टर किसके इससे हाई प्रॉफिट कमाने के लालच में इसमें निवेश करना चालू कर देते हैं जिससे उन्हें उनके लालच के चलते  heavy loss सामना करना पड़ता है। 

तो अगर आप बिटकॉइन में निवेश करना चाहते हैं तो आपको बिटकॉइन के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करके और Bitcoin देने बलि company के portfolio को अच्छी तरीके से पड़के ही बिटकॉइन में निवेश करना चाहिए जिससे आपके प्रॉफिट कमाने के chances High हो सके और loss के chances कम हो सके।  

 

 

Leave a Comment