DEFI Kya Hai – What is DEFI in Hindi? Full Detail

What is DEFI in Hindi:- आजकल Crypto Currency और Blockchain Technology की ओर लोगों का बढ़ता हुआ रुझान देखकर और इन नई Technologies के बारे में सही जानकारी की कमी को देखकर हम यहाँ पर इन्ही  technologies से सम्बंधित एक नया topic  लेकर ए है जोकि है DEFI, तो आजकी इस पोस्ट में हम बात करने वाले है की What is DEFI in Hindi.

What is DEFI in Hindi

तो अगर DEFI से संबंधित किसी भी प्रकार के सवाल हैं, जैसे कि DEFI kya hota, DEFI kaise kaam karta hai, DEFI ke phayde ya nuksaan kya hai या फिर DEFI Future In Hindi, तो इन सभी सवालों के जवाब आपको हमारी इस Detail Article में एकदम सरल हिंदी भाषा में मिल जाएंगे। 

Difference Between Crypto and Stocks in Hindi – Crypto और Stocks में क्या अंतर है?

तो चलिए जानते है DEFI के बारे में।  

DEFI का पूरा नाम Decentralized Finance है। और यह Blockchain पर आधारित होती है। DEFI की सहायता से users Cryptocurrency के द्वारा उधार ले या दे सकते है। DEFI सदियों से चली आ रही उस Traditional Centralized Finance वाली सुभिधा का एक updated तरीका है। जिसमे इसके हरेक लेंन देंन पर Blockchain Technology और Cryptocurrency उपयोग किया जाता है।

DEFI Finance की एक ऐसा प्रोसेस है जिसमे किसी भी Financial Institutions जैसे की Banks का कोई Control नहीं होता है। यहाँ पर Blockchain Technology एक ऐसी Technology है। जो की एकदम Transparent होती है, मतलब की जिसमे आपके द्वारा किये गए किसी भी Transaction का पूरा रिपोर्ट निष्पक्ष रहता है जोकि कोई भी देख सकता है।

आमतौर में जो पैसे हम अपने बैंक में जमा कराते हैं उन पैसे पर बैंक हमें कुछ ब्याज देता है और हमारे जमा किए हुए पैसों को ज्यादा Interest पर लोगों को Loan Provide करता है लेकिन इसमें हमारा पैसा असल में कहां पर जा रहा है इसका हमारे पास कोई Control और Report नहीं होता है लेकिन DEFI में आपका Invest किया गया पैसा कहां पर और कैसे जा रहा है इसका पूरा Control और Report आपके पास में होता है। इसी बजह से DEFI की मदद से हम अपने पैसों पर पूरा Control खुद ही पा सकते है।

DEFI के क्या फायदे है।

Open Source

DEFI में Invest करने के लिए आपको किसी प्रकार का कोई फॉर्म नहीं भरना पड़ता है और न ही कोई Account Open  करवाना पड़ता है, आपको DEFI को एक्सेस करने के लिए केवल एक वॉलेट क्रिएट करना होगा।

Full Control on Privacy

DEFI मैं आपकी Privacy का बहुत ही अधिक ख्याल रखा गया है, इसी वजह से आपको इसको इसे Access करने के लिए किसी प्रकार की कोई Personal Information को नहीं देना पड़ता है जैसे की Mobile Number, Email ID और   यहां तक कि आपको अपना नाम भी देने की कोई जरूरत नहीं है।

Flexible

जैसे कि पहले ही बता चुके है की DEFI में आपका आपके Assets पर Full Control होता है, जैसे कि आप अपने Assets को किसी भी समय और कहीं पर भी शेयर कर सकते हैं, इसके लिए आपको किसी भी तरह की कोई Permission या कोई Fees देने की जरूरत नहीं है।

Frequently Update

DEFI में आपको आपके Assets पर जो Interest और की प्रकार का कोई Reward दिया जाता है वो बहुत ही  Frequently Update किया जाता है जिसका Average time 15 Seconds है जोकि Traditional Banks के इंटरेस्ट में  में लगने वाले समय से बहुत ही ज्यादा है तेज है।

Transparent

जैसा कि हम पहले भी बता चुके हैं कि DEFI में जो Transaction होती है वह बहुत ही Transparent है जिसमें किसी प्रकार की Transaction को इसमें शामिल कोई भी व्यक्ति देख सकता है।

DEFI कैसे काम करता है? DeFi Working in Hindi 

Users DEFI का उपयोग एक सॉफ्टवर्स के द्वारा किया जाता है, जिसे DApps (Decentralized Apps) के नाम से जाना जाता है, जैसे की पहले भी बात कर चुके है की DEFI Blockchain Technology पर काम करती है जिसमे Blockchain के अंतर्गत होने वाले लेन देन की निगरानी इस DApps  के द्वारा की जाती है। और Market में जितनी भी DApps मौजूद है वो उनमे से ज्यादातर DApps Ethereum Blockchain से अनुसार बनी होती है।  

DEFI के कुछ फायदे नीचे दिए गए है। 

  • DEFI में आप अपनी Crypto को उधार पर देकर हर मिनट में Interest और Rewards पा सकते हैं जिसने की अपनों monthly interest मिलने का इंतजार नहीं करना पड़ता है। 
  • DEFI की मदद से आप बिना किसी Paperwork के Instant Loan ले सकते हैं जिसमें की Short Term Loan और Flash Loan शामिल है जोकि आपके Traditional Financial Institutions ऑफर नहीं करते। 
  • DEFI दे द्वारा आप अपने कुछ Crypto Assets का Peer to Peer Trades कर सकते है, जैसे कि आप बिना किसी Brokerage Charge के Stocks  को खरीद या बेच सकते है।   
  • DEFI की मदद से आप अपने कुछ Crypto Assets को Saving Account में रख सकते हैं जिससे कि आपको बैंकों की तुलना अच्छा Interest Rate मिलता हैं।  

DEFI के कुछ नुकसान  

  • Ethereum blockchain में आपके द्वारा की गई Transaction में Flactuation देखने को मिलेगी जिससे Active  Trading महंगी साबित हो सकती है।   
  • आप कोनसी DApps का इस्तेमाल कर रहे है और साथ ही कैसे उनका उपयोग करते हैं, इस चीज पर निर्भर करते हुए, आप आपके द्वारा किया गया Investment ज्यादा उतार छडाव का सामना कर सकते है। क्युकी यह एक यह नई तकनीक है।
  • DEFI में Tax purpose के लिए आपको अपना खुद का रिकॉर्ड बनाए रखना होगा।

DEFI क्या है पर अंतिम शब्द

आज के इस Detailed Article में हमने आपको DEFI क्या है, इस बारे में विस्तार से बताया, जिसमें हमने DEFI असल में कैसे काम करता है। DEFI के क्या फायदे या नुक्सान हो सकते है ये भी विस्तार में समझने की कोशिश की। 

तो दोस्तों यहां पर हम आपको एक ही बात बताना चाहते हैं मतलब की किसी भी Financial Institutions की तरह Decentralized Finance भी उतार छडाव से भरा है जिसमे High Risk और high Proofit की संभावनाएं बनी रहती हैं।

तो अगर आप DEFI में निवेश करने की सोच रहे है या फिर इसमें निवेश करना चाहते हैं तो सबसे पहले तो आप इससे संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त करके और इससे सम्बंदित जो भी कानूनी प्रक्रिया है उसी के हिसाब से ही DEFI में निवेश  में निवेश करें जिससे आपको long term में Benefits DEFI के द्वारा हो पा सके।  

तो अगर आप DEFI में निवेश करने की सोच रहे है या फिर इसमें निवेश करना चाहते हैं तो सबसे पहले तो आप इससे संबंधित पूरी जानकारी प्राप्त करके और इससे सम्बंदित जो भी कानूनी प्रक्रिया है उसी के हिसाब से ही DEFI में निवेश  में निवेश करें जिससे आपको long term में Benefits DEFI के द्वारा हो पा सके।  

Leave a Comment